हमारे विषय में

संयुक्त उपक्रम

संयुक्‍त उद्यम कंपनियां

अभी तक निम्न‍ संयुक्त उद्यम कंपनियों का निर्माण किया गया है :-

 

क्षमता वर्धन के लिए संयुक्त उद्यम

एनटीपीसी - सेल पावर कंपनी (प्रा.) लि. (एनएसपीसीएल)
1. 50:50 की इक्विटी भागीदारी वाली एनटीपीसी तथा सेल की एक संयुक्त उद्यम कंपनी ।
2. बीईएससीएल (भिलाई इलेक्ट्रिक सप्लाई कं. प्रा. लि.), जो 50:50 की इक्विटी भागीदारी वाली एनटीपीसी तथा सेल की एक अन्य संयुक्त उद्यम कंपनी है, 2 अगस्त 2006 से एनएसपीसीएल में विलयित हो गई है ।
उद्देश्य सेल के इस्पात निर्माण दुर्गापुर, राउरकेला, भिलाई में स्थित सुविधाओं के लिए पावर प्लांट का स्वानमित्वन तथा प्रचालन। भिलाई संयंत्रों का विस्तार करने के लिए।
प्रमोटरों की इक्विटी एनटीपीसी : 50%
सेल : 50%
एनटीपीसी तमिलनाडु एनर्जी कंपनी लिमिटेड
बिजली के उत्पादन, पारेषण तथा वितरण में रत तमिलनाडु राज्य के राज्य संचालित बिजली बोर्ड अर्थात तमिलनाडु बिजली बोर्ड के साथ इस संयुक्त उद्यम का निगमन 23 मई, 2003 को हुआ था
उद्देश्य तमिलनाडु में एन्नौर स्थित विद्यमान अवसंरचना सुविधा का प्रयोग करके एन्नौर में एक 1500 मेगावॉट कोयलाधारित विद्युत केंद्र की स्थापना करना तथा मुख्य‍त: तमिलनाडु को एवं केरल, कर्नाटक तथा पांडिचेरी के राज्यों को विद्युत की आपूर्ति करना ।
प्रमोटरों की इक्विटी एनटीपीसी: 50% 
टीएनईबी : 50%
अरावली पावर कम्पनी प्राइवेट लि
इस संयुक्त उद्यम कम्पनी का निगमन 21.12.2006 को इन्द्रप्रस्थ पावर जेनरेशन कम्पनी लि. (आईपीजीसीएल) तथा हरियाणा पावर जेनरेशन कम्पनी लि. (एचपीजीसीएल) के साथ हुआ था ।
उद्देश्य दिल्ली् तथा हरियाणा को विद्युत की आपूर्ति करने के लिए आईपीजीसीएल तथा एचपीजीसीएल के साथ संयुक्त उद्यम में जिला झज्जर, हरियाणा में 1500 मेगावॉट क्षमता के एक कोयला आधारित विद्युत केन्द्र की स्थापना करना । <
प्रमोटरों की इक्विटी एनटीपीसी - 50%, आईपीजीसीएल - 25%, एचपीजीसीएल - 25%
मेजा ऊर्जा निगम प्रा. लि.
इस संयुक्त उद्यम कम्पनी का निगमन 02.04.2008 को यूपीआरवीयूएनएल के साथ हुआ था ।
उद्देश्य् उत्तर प्रदेश में मेजा, जिला इलाहाबाद में एम 2X 660 मेगावॉट ताप विद्युत संयंत्र की स्थापना करना ।
प्रमोटरों की इक्विटी एनटीपीसी : 50%
यूपीआरवीयूएनएल : 50%
रत्नागिरी गैस एण्ड पावर प्रा. लि.
इस संयुक्त उद्यम कम्पनी का निगमन 9 जुलाई 2005 को हुआ था ।
उद्देश्य पूर्ववर्ती डाभोल पावर कम्पनी (1967 मेगावॉट) की परिसंपतियों तथा 5 एमएमटीपीए एलएनजी रिगैसीफिकेशन टर्मिनल का स्वानमित्वन तथा प्रचालन ।
प्रमोटरों की इक्विटी एनटीपीसी : 30.17%
गेल : 30.17%
आईसीआईसीआई : 10.65%
भारतीय स्टेट बैंक : 7.14%
आईएफआई : 21.77%
केनरा बैंक : 1.87%
एमएसईबी होल्डिंग कॉम लि. : 17.89%
नबीनगर पावर जेनरेटिंग कं. प्रा. लि.
बिहार राज्य बिजली बोर्ड के साथ इस संयुक्त उद्यम कम्पनी का निगमन 09.09.2008 को हुआ था ।
उद्देश्य न्यू नबीनगर, बिहार में एक 3X660 मेगावॉट थर्मल (ताप) विद्युत संयंत्र की स्थापना करना।
प्रमोटरों की इक्विटी एनटीपीसी : 50%
बीएसईबी : 50%

सेवाओं के लिए संयुक्त उद्यम

एनटीपीसी – अल्स्टॉंम  पावर सर्विसेज़ प्रा. लि. (एनएएसएल)
इस संयुक्त उद्यम कम्प‍नी का निगमन 1999 में किया गया था तथा पहले इसे एनटीपीसी – एबीबी अल्स्टॉंम पावर सर्विसेज़ प्रा. लि. के नाम से जाना जाता था ।
उद्देश्य भारत में तथा अन्य सार्क देशों में विद्युत केन्द्रों का नवीकरण तथा आधुनिकीकरण करना।
प्रमोटरों की इक्विटी एनटीपीसी : 50% 
अल्स्टॉंम पावर जेनरेशन एजी : 50%
युटिलिटी पावर टेक लि.
1996 में निगमित इस संयुक्त उद्यम कम्पनी का प्रचालन एक निजी क्षेत्रक भारतीय विद्युत कम्प्नी रिलांयस इन्फ्रास्ट्रक्चर लि. (भूतपूर्व बीएसईएस लि.) के साथ किया गया है ।
उद्देश्य‍ भारत में तथा विदेशों में विद्युत क्षेत्र में तथा अन्य क्षेत्रों में परियोजना निर्माण, उन्निर्माण तथा पर्यवेक्षण का कार्य करना ।
प्रमोटरों की इक्विटी एनटीपीसी : 50%
रिलांयस इनफ्रास्ट्रइक्चनर लि. : 50%
नेशनल हाई पावर टेस्ट लैबोरेटरी
इस संयुक्त कम्पनी का निगमन 22.05.2009 को एनएचपीसी, पीजीसीआईएल तथा डीवीसी के साथ किया गया था ।
उद्देश्य वैद्युत उपकरणों के लिए शार्ट सर्किट परीक्षण सुविधा के लिए
प्रमोटरों की इक्विटी एनटीपीसी : 25%
एनएचपीसी : 25%
पीजीसीआईएल : 25%
डीवीसी : 25%

विद्युत कारोबार तथा विद्युत आदान प्रदान के लिए संयुक्त उद्यम

नेशनल पावर एक्सचेंज लि.
इस संयुक्त उद्यम कम्पनी का निगमन एनएचपीसी, पीएफसी तथा टीसीएस के साथ 11.12.2008 को हुआ था।
उद्देश्य पारदर्शी, उचित तथा मुक्त तरीके से कारोबार के समाशोधन एवं निपटान के लिए वैद्युत ऊर्जा के सभी रूपों के क्रय तथा विक्रय के लिए सभी प्रकार की संविदा का राष्ट्रिव्यापी कारोबार सुविधाजनक बनाना ।
प्रमोटरों की इक्विटी एनटीपीसी : 16.67%
एनएचपीसी : 16.67%
पीएफसी : 16.66%
टीसीएस : 50%

कोयला खनन के लिए संयुक्त उद्यम

एनटीपीसी – एससीसीएल ग्लोबल वेंचुर्स प्रा. लि.
सिंगरेनी कोयलरीज़ कम्पनी लिमिटेड (एससीसीएल) के साथ इस संयुक्त कम्पनी का निगमन 31.07.2007 को हुआ था ।
उद्देश्य भारत तथा विदेशों में कोयला ब्लॉकों तथा एकीकृत कोयला आधारित विद्युत परियोजनाओं के विकास तथा प्रचालन और अनुरक्षण का संयुक्त रूप से संचालन करना ।
प्रमोटरों की इक्विटी एनटीपीसी - 50 %
एससीसीएल - 50 %
इंटरनेशनल कोल वेंचर्स प्रा. लि. (आईसीवीएल)
इस संयुक्त उद्यम कम्पनी का निगमन 20.05.2009 को हुआ था
उद्देश्य विदेशों से धात्विक कोकिंग कोयले तथा थर्मल कोयले की अधिप्राप्ति के लिए ।
प्रमोटरों की इक्विटी  एनटीपीसी : 14.28 %
एनएमडीसी : 14.28 %
आरआईएनएल : 14.28 %
सीआईएल : 28.58 %
सेल : 28.58 %

उपकरण के विनिर्माण तथा आपूर्ति के लिए संयुक्त उद्यम

एनटीपीसी – भेल पावर प्रोजेक्स् प्रा. लि.
इस संयुक्त उद्यम कम्पनी का निगमन भेल के साथ 28.04.2008 को हुआ था ।
उद्देश्य भारत तथा विदेशों में विद्युत संयंत्रों तथा अन्य मूल संरचना परियोजनाओं के लिए ईपीसी संविदाओं का अन्वेषण, अधिप्राप्ति तथा निष्पादन करना । भारत तथा विदेशों में विद्युत संयंत्रों तथा अन्य मूल संरचना परियोजनाओं के लिए उपकरणों के विनिर्माण तथा आपूर्ति में रत होना ।
प्रमोटरों की इक्विटी एनटीपीसी : 50%
भेल : 50%
बीएफ एनटीपीसी एनर्जी सिस्टम लि.
भारत फोर्ज लि. (बीएफ) के साथ इस संयुक्त उद्यम कंपनी का निगमन 19.06.2008 को हुआ था ।
उद्देश्य विद्युत तथा अन्य उद्योगों के लिए अपेक्षित कास्टिंग, फोर्जिंग, फिटिंग तथा उच्च दाब पाइपिंग, विद्युत क्षेत्र के लिए संयंत्र संतुलन (बीओपी) उपकरण इत्यादि का विनिर्माण करना ।
प्रमोटरों की इक्विटी एनटीपीसी : 49%
बीएफ : 51%
एनटीपीसी - टीईएलके
ट्रांसफॉर्मर्स एंड इलेक्ट्रिकल्स केरल लि. (टीईएलके) के शेयर एनटीपीसी ने 19.06.2009 को खरीदें।
उद्देश्य ट्रांसफार्मरों के विनिर्माण तथा मरम्मत के लिए
प्रमोटरों की इक्विटी एनटीपीसी : 44.6%
केरल सरकार : 54%
जनता : 1.4%
एनेर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड ( ईईएसएल)
एनटीपीसी, पीएफसी, पावरग्रिड और आरईसी के बीच बराबर इक्विटी भागीदारी के साथ 10.12.2009 को इस संयुक्त उद्यम कम्पनी का निगमन हुआ था।
उद्देश्य ऊर्जा दक्षता सेवाओं और उत्पादों के विनिर्माण और आपूर्ति सहित ऊर्जा दक्षता, ऊर्जा संरक्षण और जलवायु परिवर्तन में व्यापार को बढ़ावा तथा अग्रसर करने के लिए।
प्रमोटरों की इक्विटी एनटीपीसी: 25%
पीएफसी: 25%
पावरग्रिड: 25%
आरईसी: 25%
सीआईएल- एनटीपीसी ऊर्जा प्राइवेट लिमिटेड
27.04 .2010 को नई दिल्ली में कोल इंडिया लिमिटेड (सीआईएल) के साथ 50:50 इक्विटी की भागीदारी से इस संयुक्त उद्यम कम्पनी का निगमन हुआ।
उद्देश्य एनटीपीसी की फरक्का और कहलगांव की विस्तृत परियोजनाओं के कोयले की आवश्यकता को पूरा करने के लिए ब्रह्मिनी और चिचरो पट्सिमल कोयले की खान ब्लॉक के विकास हेतु ।
प्रमोटरों की इक्विटी एनटीपीसी: 50%
सीआईएल: 50%
अणुशक्ति विद्युत निगम लिमिटेड (अश्विनी)
इस संयुक्त उद्यम कम्पनी का निगमन परमाणु विद्युत उत्पादन के कारोबार में प्रवेश करने के लिए न्यूक्लियर पावर कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (एनपीसीआईएल) के साथ 27.01.2011 को हुआ था।
उद्देश्य परमाणु ऊर्जा परियोजनाओं की स्थापना।
प्रमोटरों की इक्विटी एनपीसीआईएल: 51%
एनटीपीसी: 49%

पैन-एशियन रिन्यूएबल्स प्राइवेट
नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाएं विकसित करने के लिए एशियाई विकास बैंक और क्यूडेन इंटरनेशनल कारपोरेशन (क्यूशू) द्वारा यह संयुक्त उद्यम 14.10.2011 को स्थापित किया गया।
उद्देश्य परियोजनाओं का विकास करना और तीन वर्ष की अवधि में, भारत में लगभग 500 मेगावाट नवीकरणीय विद्युत उत्पादन का पोर्टफोलियो स्थापित करना।
प्रवर्तकों की इक्विटी एनटीपीसी: 50%
एबीडी: 25%
केआईसी: 25%

अंतर्राष्ट्रीय संयुक्त उद्यम

ट्रिंकोमाली पावर कम्पनी लिमिटेड
सीलोन इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड, श्री लंका (सीईबी) के साथ यह संयुक्त उद्यम 26.09.2011 को स्थापित किया गया।
उद्देश्य ट्रिंकोमाली क्षेत्र में 2X250 मेगावाट की कोयला आधारित विद्युत परियोजना स्थापित करना।
प्रवर्तकों की इक्विटी एनटीपीसी: 50%
सीईबी: 50%

बांग्लादेश-भारत मैत्री पावर कम्पनी प्राइवेट लिमिटेड (बीआईएफसीएल)
बांग्लादेश-भारत मैत्री पावर कम्पनी (प्रा.) लिमिटेड (बीआईएफसीएल)...यहां क्लिक करें.
बांग्लादेश पावर डेवलपमेंट बोर्ड, बांग्लादेश (बीपीडीबी) के साथ यह संयुक्त उद्यम 31.10.2012 को स्थापित किया गया।
उद्देश्य बांग्लादेश में कोयला आधारित विद्युत परियोजनाओं का विकास और प्रचालन।
प्रवर्तकों की इक्विटी एनटीपीसी: 50%
बीपीडीबी: 50%

उर्वरकों के लिए संयुक्त उद्यम

हिन्दुस्तान उर्वरक एंड रसायन लिमिटेड (एचयूआरएल)
 
एनटीपीसी-कोल इंडिया लिमिटेड के साथ यह संयुक्त उद्यम 15.06.2016 को स्थापित किया गया।
उद्देश्य सिंदरी, झारखण्ड और गोरखपुर, उत्तर प्रदेश में प्रत्येक स्थान पर अमोनिया यूरिया संयंत्र स्थापित करके फर्टिलाइजर कारपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड के उर्वरक संयंत्रों को पुनर्जीवित करना।
प्रवर्तकों की इक्विटी एनटीपीसी: 50%
सीआईएलः: 50%