निवेशक

एनटीपीसी - उत्कृष्टता के साथ सतत् विकास

40वीं वार्षिक महासभा में अध्यक्ष का अभिभाषण - 20 सितम्बर, 2016

प्रिय शेयरधारको,

आपकी कम्पनी की 40वीं वार्षिक महासभा में आप सभी का स्वागत करते हुए मुझे अपार हर्ष हो रहा है। विद्युत हमारे जीवन का एक अभिन्न अंग है। हमारी कम्पनी देश की विद्युत आवश्यकताओं का लगभग एक चौथाई पूरा करती है। हम लोगों के घर को रोशन कर उनके जीवन में प्रकाश लाते हैं।

आशावादी विकास दृष्टिकोण

भारत विश्व में तेजी से विकसित हो रही अर्थव्यवस्था है जिसकी विद्युत की खपत की आवश्यकता बहुत अधिक है। 9 सितम्बर, 2016 को देश में विद्युत की वास्तविक मांग, जो अब तक की सबसे अधिक अर्थात् 3,539 मिलियन यूनिट थी, पूरी हुई और आपकी कम्पनी ने (समूह की इकाइयों सहित) इसमें 866 मिलियन यूनिट का योगदान दिया। इस प्रकार जैसे-जैसे विद्युत की मांग बढ़ रही है, आर्थिक विकास दिखाई देने लगा है और यह विकास की हमारी आशाओं के अनुरूप है।

आपकी कम्पनी ने अभी तक 12वीं पंचवर्षीय योजना में 10,125 मेगावाट कमीशन किया है और वित्तीय वर्ष 2017 के दौरान लगभग 4,500 मेगावाट और कमीशन करने का लक्ष्य है। हम सौर से विद्युत का सृजन करने के क्षेत्र में सबसे आगे बने रहना चाहते हैं।

आपकी कम्पनी देश में विद्युत के उत्पादन में बाजार की अग्रणी बनी रही और विश्व में इसकी क्षमताओं की सराहना की जाती है। यह विद्युत क्षेत्र और अर्थव्यवस्था में और अधिक योगदान देने के लिए अपनी क्षमताओं का लाभ उठाने के लिए कार्य-नीतियां बनाने और उसके अनुरूप कार्य करने के लिए सदैव तत्पर है।

विद्युत क्षेत्र में परिवर्तनकारी बदलाव

सभी के लिए कम लागत पर विद्युत के लक्ष्य की ओर बढ़ते हुए विद्युत के क्षेत्र में हाल ही में बहुत बड़े परिवर्तन दिखाई दिए है, जैसे किः

  • वितरण कम्पनियों की रुग्णता को दूर करने के लिए ’उदय‘ वित्तीय पुनर्संरचना योजना।
  • चार ’ई‘ बिन्दुओं पर बल देते हुए नई टैरिफ नीति लागू की गयी है - ये हैं सभी के लिए विद्युत, कम दर सुनिश्चित करने की क्षमता, भावी निरंतरता के लिए पर्यावरण तथा निवेश लाने के लिए कारोबार करने की सुविधा।
  • वित्तीय वर्ष 2016 में 2.1: का सर्वाधिक कम विद्युत घाटा।
  • वित्तीय वर्ष 2016 में क्षमता वृद्धि 23,976 मेगावाट थी। साथ ही सौर व पवन ऊर्जा क्षमता की गति को तीव्रता से बढ़ाने पर बल देते हए अतिरिक्त नवीकरणीय क्षमता 4028 मेगावाट विद्युत क्षमता वृद्धि की गई।

उत्साहवर्द्धक कार्य-निष्पादन

वित्तीय वर्ष 2016 में आपकी कम्पनी के कार्य-निष्पादन की मुख्य विशेषताएं निम्नानुसार हो

  • कुल नई विद्युत क्षमता का लगभग 24: वृद्धि, जो देश की नई क्षमता का लगभग 15: है जिससे उत्पादकता का उच्च स्तर परिलक्षित होता है।
  • एनटीपीसी के कोयला आधारित केन्द्रों का परिचालन औसत पीएलएफ 78.61: रहा जबकि समग्र भारत का पीएलएफ 62.29: है। एनटीपीसी के तीन स्टेशनों को देश के सर्वोच्च स्टेशनों का दर्जा प्राप्त हुआ।
  • 1960 मेगावाट पावर क्षमता परियोजनाओं में वाणिज्यिक उत्पादन की घोषणा करना।
  • कोलडैम में 800 मेगावाट की कुल क्षमता से अपनी पहली हाइड्रो परियोजना द्वारा वाणिज्यिक उत्पादन आरंभ करना।
  • कुल राजस्व बढ़कर 71,696.07 करोड़ रुपए हुआ और कर पश्चात् लाभ 10,242.91 करोड़ रुपए रहा।
  • फरवरी 2016 में प्रति इक्विटी शेयर 1.60 रुपए का अन्तरिम लाभांश घोषित किया गया। इसके अतिरिक्त 2015-16 के लिए प्रति इक्विटी शेयर 1.75 करोड़ रुपए के लाभांश की सिफारिश की गई।

निरन्तर उत्कृष्टता से कार्य करते हुए आपकी कम्पनी ने वित्तीय वर्ष 2017 में भी सकारात्मक उपलब्धियां प्राप्त कीः

  • पिछले वर्ष की इसी अवधि से 4.1: की वृद्धि सहित वित्तीय वर्ष 2017 की पहली तिमाही में 2,369.5 करोड़ रुपए का लाभ।
  • वित्तीय वर्ष 2017 की पहली तिमाही में वर्ष दर वर्ष 10: की उत्पादन वृद्धि होना।
  • जून 2016 से अपनी टेडिंग इकाई एनवीवीएन की मार्फत पावर एक्सेंज में न मांगी गई अधिशेष विद्युत की टेडिंग आरंभ करना।

वास्तविक सुदृढ़ विकास

आज एनटीपीसी समूह की स्थापित क्षमता 47,228 मेगावाट है, जिसमें हाइड्रो की 800 मेगावाट तथा सौर से उत्पादन की 360 मेगावाट क्षमता शामिल है।

23 स्थानों पर लगभग 24,000 मेगावाट की औसत क्षमता वाली विभिन्न परियोजनाओं का कार्यान्वयन किया जा रहा है। इसका अर्थ लगभग 1,60,000 करोड़ रुपए का पूँजीगत व्यय करना है। आपकी कम्पनी वित्तीय वर्ष 2017 में लगभग 4,500 मेगावाट क्षमता की परियोजनाओं में कमीशनिंग का काम पूरा करने वाली है।

अपने परिचालनों के अन्तर्राष्ट्रीयकरण के लिए आपकी कम्पनी ने बंगलादेश - इंडिया फ्रैंडशिप पावर कम्पनी लि0, जो आपकी कम्पनी का बंगलादेश पावर डिवेलपमेंट बोर्ड के साथ 50:50 का संयुक्त उद्यम है, की मार्फत 2ग660 मेगावाट मैत्री सुपर थर्मल पावर परियोजना पर कार्य कर रही है।

अधिक ईधन, बेहतर ईधन

अपने 10 कोयला ब्लॉकों में लगभग 7 मिलियन मीट्रिक टन के अनुमानित भौगोलिक रिजर्व से आपकी कम्पनी द्वारा लगभग 107 मिलियन मीट्रिक टन कोयला प्रतिवर्ष उत्पादन करने की आशा है। पकरी बरवाडीह में खनन परिचालन आरंभ हो चुका हैं।

कोयले के तृतीय पक्षकार नमूना और विश्लेषण के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर हो चुके हैं जिससे उत्पाद लागत और कम हो जाएगी। ऐसे विश्लेषण आरंभ हो चुके हैं और यह कार्य सैन्ट्रल इंस्टिट्यूट फॉर माइनिंग एंड फ्यूल रिसर्च (सीआईएमएफआर), जो वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद् की एक प्रयोगशाला है, के द्वारा सम्पूर्ण एनटीपीसी में लोडिंग व अनलोडिंग के समय पर किया जाएगा।

ग्राहकों को कम दर विद्युत

विद्युत मंत्रालय और कोयला मंत्रालय के प्रयासों से परिवहन लागत को अनुकूल बनाने तथा रेलवे नेटवर्क के अवरोध को दूर करने के लिए कोयला खाद्यान्नों का तर्कसंगत आवंटन किया गया। प्रवर्धित घरेलू कोयला आपूर्त्ति से, कोयले का आयात कम हुआ है। इन प्रयासों से वित्तीय वर्ष 2016 की पहली तिमाही की तुलना में वित्तीय वर्ष 2017 की पहली तिमाही में 14 पैसे (लगभग 4.3:) तक टैरिफ कम हो गया है।

निवेशकों का सुदृढ़ विश्वास

आपकी कम्पनी को घरेलू एजेंसियों से उच्चतम क्रेडिट रेंटिंग प्राप्त हुई है जिससे देश के विद्युत क्षेत्र में इसकी नेतृत्व स्थिति तथा सुदृढ़ वित्तीय स्थिति का पता चलता है। इसकी अन्तर्राष्ट्रीय रेटिंग्स सर्वोत्तम रेटिंग्स के समकक्ष है।

आपकी कम्पनी के ग्रीन मसाला बांड्स, जो किसी भारतीय निगमित कम्पनी ने पहली बार जारी किए हैं, की सफलता से निवेशकों का अत्यधिक सहयोग और विश्वास प्रकट होता है। निवेशकों के उत्साह को देखते हुए, कम्पनी ने बांड निर्गम के आकार को 1000 करोड़ रुपए के आरंभिक लक्ष्य से बढ़ाकर 2000 करोड़ रुपए कर दिया। इस पर 5 वर्ष की अवधि के लिए 7.48% के आकर्षक प्रतिफल की व्यवस्था है।

निरन्तर विद्युत उत्पादन के लिए प्रौद्योगिकी का लाभ उठाना और कार्य-नीति बनाना आपकी कम्पनी कम लागत कम प्रदूषण के अपने दृष्टिकोण से यथासंभव न्यूनतम आर्थिक तथा पर्यावरणीय लागत पर विद्युत प्रदान करने के लिए वचनबद्ध है।

उत्पादन की बढ़ती हुई क्षमता विद्युत की प्रत्येक इकाई से ग्रीन हाउस गैसों के उत्सर्जन को कम करती है। आपकी कम्पनी तेलंगाना सुपर थर्मल पावर परियोजना जैसी अपनी नवीनतम परियोजनाओं में अल्ट्रा सुपर क्रिटिकल प्रौद्योगिकी को अपना रही है। इससे ऐसी इकाइयों की संयंत्र क्षमता कनवेंशनल सबक्रिटिकल 500 मेगावाट इकाई में लगभग 8% और सुपर क्रिटिकल इकाइयो में 3: बढ़ जाएगी।

संशोधित टैरिफ नीति के अनुरूप, आपकी कम्पनी ने अपने विद्युत संयंत्रों के 50 किमी के दायरे में स्थित नगर निगमों के संयंत्रों से साफ किए गए सीवेज वाटर का उपयोग करने के लिए बातचीत आरंभ कर दी है। इससे लगभग

7.5 मिलियन लोगों को पानी उपलब्ध कराया जा सकेगा।

विश्व के वन संसाधनों का केवल 1: हिस्सा और भूभि का 2.3% हिस्सा भारत में है। देश में व्यापक रूप से वृक्षारोपण करने के प्रयास करने की आवश्यकता है। आपकी कम्पनी ने वित्तीय वर्ष 2016 तक अपनी परियोजनाओं में और उनके आसपास लगभग 23 मिलियन वृक्ष लगाए हैं। वर्ष 2016-17 के लिए 10 मिलियन वृक्ष लगाने का लक्ष्य रखा गया है।

आपकी कम्पनी ने कागज का उपयोग कम करने के लिए भी विभिन्न प्रयास किए हैं और यह कागज रहित कार्यालय परिदृश्य की ओर उन्मुख होने का लक्ष्य कर रही है। इस सम्बन्ध में, मैं इस महान कार्य के लिए अपने शेयरधारकों का भी सहयोग चाहता हूँ कि वे इलैक्ट्रॉनिक रूप से सूचनाएं प्राप्त करने के लिए अपने ईमेल-आईडीज कम्पनी या रजिस्ट्रार के पास पंजीकृत कराएं।

सामाजिक दायरे का विस्तार

आपकी कम्पनी लोगों के जीवन स्तर में सुधार करने तथा समस्त विकास को बढ़ावा देने के लिए समाज, विशेषतः अपनी कारोबारी इकाइयों के समीपस्थ समुदाय का ध्यान रखने के लिए वचनबद्ध है।

आपकी कम्पनी ने निगमित सामाजिक दायित्व प्रयासों के अधीन वित्तीय वर्ष 2015-16 के दौरान 491.80 करोड़ रुपए खर्च किए हैं जो कर पश्चात् लाभ के आदेशित 2% से काफी अधिक है।

आपकी कम्पनी ने 16,000 सरकारी स्कूलों में लगभग 29,000 शैचालय उपलब्ध कराते हुए स्वच्छ विद्यालय अभियान में सहयोग दिया है। आपकी कम्पनी राष्ट्रीय दक्षता विकास निगम से समझौता - ज्ञापन की मार्फत भारत सरकार के "स्किल इंडिया मिशन" में सहयोग दे रही है। आपकी कम्पनी कई मल्टी स्किल सेन्टर्स विकसित करेगी और एनटीपीसी की कारोबारी इकाइयों के आसपास लगभग 30,000 युवाओं को व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदान करेगी। लगभग 50 ऐसे केन्द्र पहले ही कार्य कर रहे हैं। गोल्ड ट्रॉफी और सर्टिफिकेट ऑफ मैरिट 2015-16 एसोचैम अवार्ड्स के रूप में एनटीपीसी के प्रयासों को मान्यता दी गई।

सक्रिय निगमित शासन प्रणाली

शेयरधारकों के साथ पारिदर्शिता, जवाबदेही, निष्पक्षता व व्यापक रूप से सूचना का प्रसार करना हमारे कार्यों का अभिन्न हिस्सा है। हम प्रणाली के अनुसार काम करने और कार्य निष्पादन के अनुसार प्रणाली अपनाने में विश्वास रखते हैं।

आपकी कम्पनी तेजी से बदलते हुए विद्युत कारोबार परिदृश्य में सर्वोत्तम कार्य नीति अपनाकर कारोबार परिदृश्य का सूक्ष्मता से निरन्तर अवलोकन करती है।

आपकी कम्पनी को 2015 के लिए सूचीबद्ध सरकारी क्षेत्र के उपक्रमों की श्रेणी में ऐसोचैम का प्रथम कारपोरेट गवर्नेंस एक्सलैंस अवार्ड प्राप्त हुआ है।

एनटीपीसी टीम : मूल्य सृजन करने वाला प्रतिबद्ध कार्य-दल

आपकी कम्पनी की मूल सक्षमता एनटीपीसी टीम के 22,500 से भी अधिक सदस्यों के दिल और दिमाग में बसी हुई है कि दिन रात काम करके आपके घरों को रोशन करके संतुष्ट होते हैं और देश को ओद्योगिकीकरण तथा प्रगति के पथ पर स्थापित करते हैं। इसकी पुष्टि आपकी कम्पनी को ग्रेट प्लेस टू वर्क इंस्टिट्यूट और दि इकॉनोमिक टाइम्स द्वारा किए गए सर्वेक्षण में सरकारी क्षेत्र के उपक्रमों की श्रेणी में "बेस्ट कम्पनी टू वर्क फॉर, 2016" का पुरस्कार प्राप्त होने से भी होती है।

आपकी कम्पनी को नए, प्रतिभाशील युवा व्यावसायिकों को निरंतर अपने कार्य-दल में शामिल करते हुए एक कुशल कार्य-दल तैयार करने की आवश्यकता है, जिन्हें भविष्य में और बड़ी परियोजनाओं पर कार्य करने के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा। अतः यह कड़ी चयन प्रक्रिया की मार्फत ग्रेजुएट इंजीनियरों की निरन्तर भर्ती करती है और उन्हें

52 सप्ताह का व्यापक प्रशिक्षण तथा शुरुआती प्रशिक्षण देती है जो इस क्ष़ेत्र में अपने प्रकार का संभवतः एकमात्र कार्यक्रम है।

विश्व स्तर के संस्थानों के परामर्श से वैश्विक सर्वोत्तम प्रक्रियाओं को अपनाते हुए, आपकी कम्पनी तथा इसकी सहयोगी कम्पनियों के कर्मचारियों की सुरक्षा पर सबसे अधिक बल दिया जाता है।

आभार

मैं, भारत सरकार, विशेष रूप से विद्युत मंत्रालय, सीईआरसी, सीईए, राज्य सरकारों, अपने बहुमूल्य ग्राहकों, लेखा-परीक्षकों, विक्रेताओं तथा अन्य प्राधिकरणों और एजेंसियों का हार्दिक घन्यवाद और आभार व्यक्त करता हूँ जिन्होंने आपकी कम्पनी को निरन्तर सहयोग दिया है।

मैं कम्पनी को सुदृढ़ बनाने के लिए अपने बोर्ड के सदस्यों द्वारा दिए गए अमूल्य सहयोग के लिए उनकी सराहना करता हूँ।

मैं निवेशकों तथा शेयरधारकों द्वारा आपकी कम्पनी को दिए गए सतत् सहयोग के लिए उनका विशेष रूप से धन्यवाद करता हूँ।

एनटीपीसी परिवार के 22,500 से भी अधिक कर्मठ सदस्यों की ओर से, मैं आपको आश्वासन देता हूँ कि हम अपनी पूर्ण निष्ठा और अथक प्रयासों से आपकी आशाओं को पूरा करेंगे।

धन्यवाद (गुरदीप सिंह)
अध्यक्ष व प्रबन्ध निदेशक

सितम्बर 20, 2016
नई दिल्ली
इस वार्षिक महासभा की कार्यवाही का रिकार्ड हो अभिप्राय नहीं है।
सीआईएनः L40101DL1975GOI007966 । वेबसाइटः www.ntpc.co.in